• Home
  • >
  • अवॉर्ड शो में होने वाले फ्रॉड से लेकर ऋतिक विवाद तक, इन बयानों की वजह से सुर्खियों में हैं कंगना।।।।।
  • Label

अवॉर्ड शो में होने वाले फ्रॉड से लेकर ऋतिक विवाद तक, इन बयानों की वजह से सुर्खियों में हैं कंगना।।।।।

CityWeb News
Monday, 04 September 2017 01:11 PM
Views 428

Share this on your social media network

बॉलीवुड की क्वीन कंगना रनौत एक बार फिर सुर्खियों में हैं. वजह कुछ और नहीं अपकमिंग फिल्म ‘सिमरन’ के प्रमोशन के दौरान हर सवाल का बेबाकी से जवाब देना है. इस वीकेंड कंगना रनौत ‘आप की अदालत’ में पहुंचीं और अपने ऊपर लगे हर आरोप का जवाब दिया. ऋतिक रोशन से हुए विवाद पर उनसे माफी की मांग करते हुए कंगना ने कहा, ”मैंने इतनी बेइज्जती झेली है जिसका कोई हिसाब नहीं है. रात-रात भर मैं रोती थी. मुझे मेंटल और इमोशनल ट्रॉमा हुआ. मेरे नाम पर घटिया, वाहियात मेल रिलीज किए हुए हैं जिन्हें आज भी लोग गूगल करके चटकारे लेकर पढ़ते हैं. इस बद्तमीजी के लिए मुझे माफी चाहिए.”इसके साथ ही कंगना ने ये भी बताया कि ‘क्वीन’ फिल्म की रिलीज से पहले ऋतिक रोशन ने उनसे ब्रेकअप कर लिया था. लेकिन फिल्म जैसे ही हिट हुई ऋतिक उनके पास आए और कहा कि उनसे बहुत बड़ी गलती हो गई. कंगना ने कहा, ”मैंने उनसे कहा कि तुम पहले दिमाग बनाओ कि मुझसे शादी करनी है या नहीं. करन जौहर की पार्टी में वो मुझसे मिला तो बोला कि सक्सेज तुम्हारे दिमाग पर चढ़ गया है. मैंने कहा कि मैं सक्सेज से पहले भी ऐसी ही थी तुम बदले मैं नहीं.”ई-मेल विवाद पर कंगना ने कहा कि उनके अकाउंट से ऋतिक ने खुद को मेल भेजे. कंगना ने कहा, ”आपने वो मेल इकट्ठे किए, आपने फाइल बनाई, फिर आपने उसके लिए भारत का सबसे बेस्ट क्रीमिनल वकील हायर किया कि लड़की से मुझे बचाओ. उसे पता नहीं था कि जिस फ्लॉप एक्ट्रेस को वो डेट करता था वो क्वीन से स्टार बन जाएगी, ‘तनु वेड्स मनु’ से सुपरस्टार बन जाएगी और आगे उसकी इतनी बड़ी जर्नी हो जाएगी कि कोई मुझे सुनेगा नहीं.” ”अवॉर्ड फंक्शन एक नंबर के फ्रॉड हैं आप लोग भी मत देखा करो. मैं अवॉर्ड फंक्शन में नहीं जाती हूं तो इंडस्ट्री के बड़े लोगों के धमकी भरे फोन आते हैं कि आपको बैन कर देंगे. आपको क्यों चाहिए कि मैं आऊं ही आऊं. जो भी अायोजक होते हैं ये लोग पैसा बचाने चक्कर में अवॉर्ड के बदले में सितारों से परफॉर्मेंस करा लूं. अवॉर्ड का वातावरण बहुत गलत है. नेशनल अवॉर्ड का मुझे सबसे अच्छा ये लगता है कि वहां टीआरपी का चक्कर नहीं होता. नेशनल अवॉर्ड में आना है तो आओ नहीं आना है तो मत आओ, वहां किसी को कोई फर्क नहीं पड़ता.” आदित्य पंचोली का चैप्टर पुलिस से शिकायत के बाद बंद हुई. उन्होंने मुझे बदनाम किया. इंडस्ट्री में किसी ने मुझे हेल्प नहीं की. उन्होंने इतना परेशान किया कि अऩुराग बासु की फिल्म ‘मेट्रो’ की शूटिंग के दौरान उन लोगों ने मुझे 15 दिन अपने ऑफिस में छुपा के रखा. दोस्त हेल्प करते थे. लेकिन आपको पुलिस की हेल्प चाहिए. ऐसे गुंडे लोगों के सामने कोई और कुछ नहीं कर सकता

ताज़ा वीडियो


कितना प्यारा है श्रृंगार की तेरी देऊ नजर उत्तर कितना प्यारा है
BB Ki Vines- | Angry Masterji
More +

संबंधित ख़बरें

Copyright © 2010-16 All rights reserved by: City Web